Extra co-curricular activities

छात्रसंघ

महाविद्यालय में छात्र-छात्राओँ क्रो कलात्मक, सांस्कृतिक एव साहिंत्यिक प्रतिभा के प्रोत्साहन हेतु विश्वविद्यालय के "आर्डिनेंस १" के तहत शासन के दिशा निर्देशो का पालन करते हुए छात्र संघ का गठन किया जाता है । छात्रसंघ गतिविधियों के अंतर्गत युवा उत्सव, सांस्कृतिक कार्यक्रम, वार्षिक स्नेह सम्मलेन, पुरस्कार वितरण समारोह आदि आयोजित किये जाते है ।

नेशनल कैडेट कौर ( एनसीसी.)

सीनियर डिवीजन एनसीसी. ३ कौ तीन इकाईयाँ संचालित हैँ-
1 ) पैदलसेना (Infantry) ( 2 ) सिगनल्स (Signals) ( 3 ) वायु स्कंध (Airwing)
विद्यार्थियों के लिए उपर्युक्त सभी इकाईयों में प्रशिक्षण प्राप्त करने हेतु पर्याप्त संसाधन उपलब्ध है । स्नातक प्रथम वर्ष की कक्षा तक के सभी विद्यार्थियों के लिए एन.सी.सी. का प्रशिक्षण अनिवार्य है परन्तु चिकित्सा प्रमंडल द्वारा एनसीसी.प्रशिक्षण हेतु अयोग्य घोषित किये जाने वाले विद्यार्थी को कुलपति प. रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय, रायपुर द्वारा प्रशिक्षण से मुक्त भी किया जा सकता है |

राष्टीय सेवा योजना (National Service Scheme)

महाविद्यालय में राष्ट्रीय सेवा योजना ( एन.एस.एस. ) की एक इकाई है जिसमेँ 1 00 छात्र-छात्राओं कॉ सम्मलित किया जाता है । राष्टीय सेवा योजना का उदृदेश्य युवाओं में अपने आसपास चल रही सामाजिक, प्रादेशिक एवं राष्ट्रीय समस्याओ का निराकरण स्वयंसेवक बनकर कर सके । राष्ट्रीय सेवा योजना के अन्तर्गत गत वर्ष 124 स्वयंसेवकों कों पजीकृत किया गया, प्रथम वर्ष छात्र-छात्राओ के लिये एन.एस.एस. पंजीकरण अनिवार्य है । इच्छुक छात्र-छात्राएँ कार्यक्रम अधिकारी डॉ.संजना भगत से सम्पर्क कर सकते हैं |

रेडक्रास सोसायटी

महाविद्यालय में स्रन् 2006 से यूथ रेडक्रास सोसायटी का गठन किया गया है जिसके अंतर्गत प्रतिमाह स्वास्थ्य गतिविधियाँ एबं युवा गतिविधियाँ संचालित होती है । रक्त दान शिविर, रक्त परीक्षण शिविर, पोलियो ड्राप पिलाना, स्वास्थ्य शिविर, स्वास्थ्य व्याख्यान आदि के माध्यम से स्वास्थ्य जागरूकता लायी जाती है । रेड रिबन क्लब का गठन भी किया जाता है | जिसमेँ एड्स दिवस,एड्स रैली,एड्स व्याख्यान आदि आयोजित किये जाते है । इसकी प्रभारी डॉ. रेणु सक्सेना विभागाध्यक्ष हिंदी है ।

विज्ञान क्लब

यधपि यह विज्ञान महाविद्यालय है, तथा केवल विज्ञान विषयो का ही यहा पर अध्यापन कराया जाता है फिर भी विद्यार्थियों की मौलिकता को सामने लाने के लिए विज्ञान क्लब के रूप मे एक मंच उपलब्ध है । मॉडल, पोस्टर, लेखन, प्रश्न मंच आदि क्रिया-कलापो के लिए विज्ञान क्लब प्रभारी डॉ. राजीव गुहे से संपर्क किया जा सकता है ।

मार्गदर्शन प्रकोष्ठ

The Primary highlight of the Govt.Nagarjuna P.G. College of Science is its career Counselling & Placement to Students. The cell has infused hope and confidence in the minds of students.The cell function under the patronship of principals.
In then last year the cell organised various career counselling seminars. The cell also lounched career awareness programme by way of such seminars.
The most Significant area of operation was placement.Campus Interview were organized, sales Executive chemist and Communication Executive.

सामान्य ज्ञान क्लब

सत्र २००७- २००८ से शासकीय नागार्जुन स्नातकोत्तर विज्ञान महाविद्यालय रायपुर मे अकादमिक वातावरण मे विद्यार्थियों के विविध आयामी उन्नयन एवं शैक्षणेत्तर विकास की दृष्टि से प्रतियोगी परीक्षाओ पर केंद्रित सामान्य ज्ञान पर आधारित परीक्षाये आयोजित की जाती है ।
इस वर्ष इसके क्रियान्वयन हेतु महाविद्यालय के प्राध्यापको की एक समिति गठित की गई है । जिसका नाम "सामान्य ज्ञान क्लब" रखा गया एवं इसके सदस्य है -
डॉ. प्रवीण देवांगन
डॉ. प्रवीण कड़वे
डॉ. श्रीमती सुनीता पात्रा
इस तारतम्य मे उपरोक्त समिति द्वारा समय- समय पर सामान्य ज्ञान परीक्षा आयोजित की जाती है । स्नात्कोत्तर के विद्यार्थियों हेतु नेट की परीक्षा पर आधारित सामान्य विज्ञानं से सम्बंधित परीक्षा आयोजित की जाती है । इसी के साथ कंप्यूटर पर आधारित सामान्य ज्ञान एवं विज्ञान दिवस पर सामान्य विज्ञान पर आधारित परीक्षाये आयोजित की जाती है । इस परीक्षा मे प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त छात्र- छात्रों को वार्षिकोत्सव के अवसर पर सामान्य ज्ञान की मानक पुस्तको से पुरस्कृत किया जाता है ।
महाविद्यालय परिवार
शासकीय नागार्जुन स्नातकोत्तर विज्ञान महाविद्यालय, रायपुर छत्तीसगढ़ शासन, उच्च शिक्षा विभाग के अंतर्गत आने वाला शासकीय महाविद्यालय सन १९८५ मे यह आदर्श विज्ञान महाविद्यालय के रूप मे प्रतिष्ठित हुआ तथा सन १९८८ से इसे स्वशासी का दर्जा प्राप्त हुआ । महाविद्यालय मे अध्ययन, अध्यापन तथा सर्वागीण विकास को सुनिश्चित करने के लिए जनभागीदारी समिति राज्य शासन द्वारा गठित की जाती है । इसके अलावा विश्वविद्यालय अनुदान आयोग की गाइड लाइन पर स्वशासी व्यवस्था को सुदृण बनाने तथा उसमे पारदर्शिता सुनिश्चित करने के उद्देश्य से शासी निकाय (Governing Body) का गठन किया जाता है । पाठयक्रमों को राष्ट्रीय तथा अंतरराष्ट्रीय स्तर का बनाने तथा गुणवत्ता परक शिक्षा सुनिश्चित करने के लिए विश्विद्यालय अनुदान आयोग के प्रावधानानुसार विद्या परिषद का गठन किया जाता है |