Sports Department

यह महाविद्यालय प्रदेश का सबसे बडा चिन्हित महाविद्यालय है । अत: रायुपर जिले की समस्त खेलकूद गतिविधियों' महाविद्यालय से संचालित होती हैं । हैंडबाल, लान टेनिस, बास्केटबाल ,व्होलीबल ,नेटबाल , बैडमिंटन, खो -खो , एवं कबडूडी के लिए अलग-अलग मैदान है । टेबिल टेनिस, कैरम, शतरंज के लिए भी हाल है, जहाँ खिलाडी वर्ष भर खेलते हैं । स्वस्थ शरीर में स्वस्थ मस्तिष्क निवास करता है, इसे चरितार्थ करने के लिए इस महाविद्यालय में विज्ञान के विभिन्न विषयों की पढाई के अलावा खेलों को महत्वपूर्ण स्थान दिया जाता है । इसके अलावा सुबह शाम प्रतियोगिता के अनुरूप प्रशिक्षण दिया जाता है .

खिलाडियों को महाविद्यालय द्वारा प्रदत्त सुविधाएँ: महाविद्यालय की क्रीडा गतिविधियों में भाग लेने वाले छात्र -छात्राओं को उच्च शिक्षा विभाग, छस्तीसगढ़ शासन के केलेन्डर के अनुसार 36 खेल विधाओं तथा पं. रविशंकर शुवल विश्वविद्यालय के तहत आयोजित होने वाली 36 विधाओं अर्थात् कुल 32 खेलों का प्रशिक्षण सतत् दिया जाता है । अंतर्महाविद्यालयीन प्रतियोगिताओं हेतु चयनीत होने पर टी.ए. + डौ.ए. एवं खिलाडियों को खेल गणवेश भी महाविद्यालय द्वारा प्रदाय किया जाता है । राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में चयनीत होने पर अथवा पं. रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय दल में चयनीत होने पर खिलाडियों को
विशेष रूप से पुरस्कृत किया जाता है ।

वार्षिक पुरस्कार वितरण समारोह में सभी प्रतिभागी खिलाडियों को प्रमाण पत्र, राज्य स्तर प्रतिनिधित्व करने वाले खिलाडियों को
मेडल, पुरस्कार एवं प्रमाण पत्र तथा विश्वविद्यालय का प्रतिनिधित्व करने वाले को ट्रेक सूट, मेडल, पुरस्कार एवं प्रमाण-पत्र
प्राचार्य एवं जनभागीदारी अध्यक्ष द्वारा प्रदान किया जाता है । वर्ष के सर्वश्रेष्ठ खिलाडी को डॉ. विष्णु श्रीवास्तव द्वारा अपने दादा
स्व. चुन्तीलाल श्रीवास्तव की स्मृति में गोल्ड मेडल प्रदान किया जाता है।
इस महाविद्यालय में डॉ. विष्णु श्रीवास्तव एवं श्री गोपाल उरकुरकर क्रीडा पदाधिकारी पदस्थ है । इनकी प्रतिभा का लाभ लेकर यहाँ
के खिलाडी अपने व्यक्तिव एवम खेल कौशल का विकास करते हैं ।